Maakhan Jism

  शेर तेरी तारीफ़ में एक छोटा सा शब्द लाया हूँ। तेरी तारीफ़ में एक छोटा सा शब्द लाया हूँ, मगर डरता हूँ। अपने आप को खुदा सुनकर कहीं तू मुझे मिट्टी न कर दे।। Para 1 i.) साईं इतना मुझको दे। जिस्म मेरा करना दे। उसके हुस्न की नमाजों को क़ज़ा।। ii.) नटखट है …

Maakhan Jism Read More »