Supar

-: श्री गणेशाय नमः :-
Film Super

एक दिन अचानक वैज्ञानिक प्रोफेसर शुक्ला का किडनैप हो जाता है I इस के सम्बंधित मंत्री सभी पुलिस, अफसरों का एक बैठक बुलाता है I जिसमे एक पुलिस आफिसर को देता है I केश की तहकीकात करने I विजय को पता चलता है कि प्रोफ़ेसर के पार्टनर प्रोफ़ेसर विश्वास का भी किडनैप होने वाला है I क्योकि दोनों ने मिलकर कैमरे का अविष्कार किया है I
प्रोफेसर विश्वास का भी किडनैप हो जाता है I विजय गुंडों का पीछा करता है I सड़क पर गोलीबारी होता है I विजय की गाड़ी गुंडों की गाड़ी से टकराने से विजय गाड़ी से बहार आ जाता है I सामने राड से सर पर चोट लगने वाला होता है I तभी आर्यन विजय को बचा लेता है I विजय thanks कहके चला जाता है I तब तक गुंडे भी वहा से भाग जाता है I
आर्यन एक गोडाउन में जाता है I जहाँ गुंडे छिपे होते है I गुंडों से लड़ाई करके प्रोफेसर को बचाकर अपने साथ ले जाता है I
इधर विजय की गर्लफ्रेंड पूजा की जन्मदिन है विजय उसे मनाने चला जाता है (Love Song)
एक दिन विजय आर्यन से रेस्टोरेंट में मिलते है और बात करते है I उसी समय संध्या विजय से मिलने आती है I विजय एक – दूसरे का परिचय कराता है I तभी संध्या को उसके प्रेमी आर्यन की याद आती है और वह रोने लगती है I पूजा के पूछने पर विजय बताता है की संध्या बचपन से आर्यन से प्यार करती है I मगर आर्यन बचपन से कही चला गया है I संध्या रोती हवी वहां से चली जाती है I आर्यन भी रोता है I आर्यन और संध्या रात में एक – दूसरे को याद करके रोने लगते है I Sad Song
इधर दिग्विजय राणा प्रोफेसर शुक्ला से एक चीप बनवाता है और चीप को लेकर बैंक में पैसा जमा करने के बहाने जाता है I और बैंक के सिक्यूरिटी सिस्टम में लगा देता है I जिससे दिग्विजय राणा बैंक के कैमरे को अपने कंट्रोल में करके 15 दिन पहले का वीडियो प्ले कर करके बैंक में अपने आदमियों से चोरी करवाता है I ये बात आर्यन विजय को तुरंत Call करके बताता है और विजय गुंडों का पीछा करता है I सड़क पर विजय और गुंडों के बिच एक्शन होता है I कई गुंडे मरे जाते है I गुंडे स्कूल बस को टक्कर मार देते है I विजय बच्चो को बचाने के लिए रुक जाता है I
तभी रोड पर गुंडे के पीछे आर्यन आ जाता है और उनके बीच fight होता है I बाकि गुंडे भाग जाता है I पैसे वाला बैग आर्यन उठाता है उसी समय विजय देख लेता है और आर्यन पर गोली चलाता है I आर्यन बाइक पर भागता है I आर्यन और विजय के बीच काफी एक सिन होता है I सामने एक कार से आर्यन का बाइक टकरा जाता है और कार के ऊपर गिर जाता है और फिर आर्यन बिल्डिंग पर चला जाता है I विजय भी उसके पीछे जाता है I वहां भी एक्शन सीन होता हैं I
फिर आर्यन अंतिम में नदी के किनारे वाले बिल्डिंग के ऊपर पहुँच जाता है I जहाँ आगे जाने का रास्ता नहीं और पीछे विजय था I आर्यन पीछे से पर्स निकालता है और विजय समझता है कि आर्यन बन्दुक निकाल रहा है I ये समझ कर आर्यन पर गोली चलाता है I आर्यन नीचे नदी में गिर जाता है और उनका पर्स ऊपर बिल्डिंग में गिर जाता है I जिसे विजय देखकर रोने लगता है क्योकि पर्स में आर्यन, विजय उनके पापा का फोटो होता है I विजय अपने दोस्त को मार दिया कर के रोने लगता है I
विजय पछतावे के कारन अपने घर से नहीं निकलता है I तभी विजय की गर्लफ्रेंड पूजा परेशान होकर विजय के घर आता है और वहां पर विजय को परेशान देखकर वजह पूछती है की क्या हुवा तब विजय बताते है की उसने अपने दोस्त को मार दिया और विजय पूजा को पूरी बचपन की बात बताता है I
शहर में चोरी, डकैती और गुंडागर्दी करने वाले राबी को दिग्विजय राणा गिरफ्तार करके जेल में बंद करता है I शहर के रक्षा मंत्री कमांडो दिग्विजय राणा को शाबासी देने आता है मगर कमांडो दिग्विजय राणा स्टेशन में नहीं होता है I तभी गुंडा राबी पहरेदार का बन्दुक छिनकर मंत्री जी पर गोली चलाता है I मगर कमांडो ऑफिसर अभिमन्यु मंत्री जी को बचा लेता है I और गोली अभिमन्यु को लगता है I जो आर्यन का पिता है I फिर राबी को गिरफ्तार करता है I
यह देखकर मंत्री अभिमन्यु को the chief of Cammando बनाने की बात करता है I यह बात सुनकर दिग्विजय राणा अभिमन्यु को मारने के लिए उसके घर चला जाता है I साथ में गुंडा राबी भी उसके साथ चला जाता है I दोनों को अभिमन्यु साथ देखकर आश्चर्य रहता है I तब राणा बताता है की राबी उसी का आदमी है I वह chief of commando बनने के लिए राबी को गिरफ्तार करने का नाटक किया है I
अब मंत्री जी के कहे अनुसार तुम्हारे मरने के बाद ही मै chief of commando बनूँगा I यह कहकर अभिमन्यु पर गोली चला देता है I जिसे देखकर अभिमन्यु का दोस्त मयंक पांडे (विजय का पिता) आ जाता है और गोली उसी को लग जाता है I अभिमन्यु मर जाता है और मयंक पांडे भी हॉस्पिटल में रहता है I आर्यन के पूछने पर कहता है की दिग्विजय राणा बैंकों को लूटकर वही बैंकों को कर्ज देकर डबल पैसा कमाता है I अगर तुम उनके प्लान को फैल कर सकते हो और उसी से मिल कर उनको पकड़ सकते हो ये सुनकर आर्यन दिग्विजय राणा की खोज में चला जाता है I तब से अब तक वो नहीं आया है I
अब पूजा विजय को सुलाती है और फिर अपने घर जाती है I ये सब बाते संध्या छुपकर सुन लेती है और तुरंत नदी की ओर जाती है I वहां दूर पर आर्यन जख्मी हालत में मिलता है I उसे संध्या अपने घर लाती है और आर्यन का इलाज करती है I क्योकि संध्या एक डॉक्टर है आर्यन को होस में आने पर संध्या उसे गले लगाती है I फिर आर्यन संध्या से कहता है I ये क्या कर रही हो ?
तभी संध्या उसे बोलती है कि उसे सब पता चल गया है I और फिर दोनों एक – दूसरे को गले लगाकर एक-दूसरे को प्यार करने लगता है I यहाँ पर Love Song चलता है I
इधर विजय जब जागता है I तो अपने आप को दिग्विजय के घर पाता है I दिग्विजय विजय से आर्यन के बारे में पूछता है I तो विजय बताता है की आर्यन अभिमन्यु का और मै पांडे जी का बेटा हूँ I तुम्हारे आदमी को मारने वाला आर्यन है I मगर धोखे से मैंने उसे मार दिया I
ये जानकर दिग्विजय बहुत खुश होता है और विजय को मारने के लिए गोली चलाता है I तभी आर्यन वहां पर आकर विजय को बचा लेता है विजय के पूछने पर आर्यन बताता है की वह जिन्दा कैसे बचा I फिर आर्यन से दिग्विजय पूछता है की बैंक में चोरी की बात तुरंत शायद तुमने बताया है और विजय यहाँ है करके तुमको कैसे पता ?
आर्यन – जब तुमने प्रोफेसर का किडनेप किया तभी मै समझ गया की विश्वास का भी किडनेप होगा I फिर मै विश्वास को साथ ले गया और उनसे एक चिप बनवाकर तुम्हारे घर के security सिस्टम में फिट कर दिया I फिर तुम्हारे हर प्लानिंग और हर बात को देखता और सुनता था और उसी के सहारे चोरी की बात फोन करके विजय को बताया और ये भी जान लिया की विजय तुम्हारे पास है I
ये सुनकर दिग्विजय राणा आर्यन की तारीफ करता है और उसके चालाकी को सलाम करके Super कहता है I विजय आर्यन और दिग्विजय के बिच लड़ाई होता होता है I सभी गुंडे को मरते देख दिग्विजय राणा कर में भागता है I आर्यन पीछा करता है फिर राबी बीच में आ जाता है I तभी विजय हेलीकाप्टर में वहां आता है और राबी को रोकता है I आर्यन हेलीकाप्टर में राणा के पीछे जाता है और उनके कर को पंचर कर देता है फिर आर्यन हेलीकाप्टर से नीचे उतरता है I सामने से पेट्रोलियम टैंकर आता है I राणा ड्राईवर को मारकर टैंकर में भागता है I तब तक हेलीकाप्टर चला जाता है I टैंकर के सामने एक बाइक वाला है I उस बाइक में आर्यन टैंकर की ओर आगे बढता है और बाइक के पेट्रोल पाइप को लीकेज कर देता है और आर्यन बाइक से कूद जाता है I
जैसे ही बाइक दिग्विजय राणा के पेट्रोलियम टैंकर के पास पहुँचता है I तो आर्यन बाइक को ब्लास्ट कर देता है I इधर दिग्विजय राबी को मार देता है I इस प्रकार फिल्म सूपर समाप्त हो जाता है I

FWA Membership No. :- 031985
Written by Sudarshan Chandrakar

Rights Available Click Here



Post your script for sell




Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *