fbpx

हूक प्यार का दर्द मोहब्बत

हूक

चली रे चली मेरी गाडी है चली। टेडी,मेडी राहों पे दोडे ये चली।। उडी रे उडी जुल्फ़ उसकी है उडी । फिज़ाओं मैं जिसकी चर्चा है बड़ी। बड़ी रे बड़ी यहां ठन्डक है बड़ी। चली रे चली मेरी गाड़ी है चली। ऐसे मैं वो मुझको, कहीं से पुकारे। आंचल मैं वो मुझको छिपाले।। चली रे …

हूक Read More »

error: Content is protected !!